शाहबाज कलंदर दरगाह में धमाके के बाद बिफरी पाक सेना, 100 आतंकी किए ढेर

0

pakistan760_1487354041_749x421

पाकिस्तान के सिंध प्रांत की लाल शाहबाज कलंदर दरगाह पर गुरुवार को आत्मघाती विस्फोट के बाद शुक्रवार को बड़ी संख्या में जायरीन इस सूफी दरगाह पर पहुंचे और रोजमर्रा की रस्मों को अदा किया. लोगों ने आतंकवादियों को कड़ा संदेश दिया जिन्होंने इस जघन्य हमले में कम से कम 88 लोगों की जान ले ली.

दरगाह हमले में अबतक 88 की मौत
जायरीनों ने शाम की नमाज के बाद दरगाह परिसर में आध्यात्मिक नृत्य ‘धमाल’ भी किया. हमले के बाद दरगाह परिसर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई. सिंध के सहवान में लाल शाहबाज कलंदर सूफी दरगाह पर आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था जिसमें 88 लोगों की मौत हो गई थी.

सेना की कार्रवाई में 100 आतंकी ढेर
वहीं दरगाह पर आईएसआईएस के आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए विस्फोट के एक दिन बाद पाकिस्तानी सुरक्षा बलों की कार्रवाई में शुक्रवार को 100 से अधिक आतंकवादी मारे गए. सेना की मीडिया इकाई आईएसपीआर ने कहा कि बीती रात से बड़ी संख्या में संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है.

बयान में यह नहीं स्पष्ट नहीं किया गया है कि आतंकवादी कहां मारे गए अथवा कहां से गिरफ्तार किए गए. उसने कहा कि विवरण साझा किया गया जाएगा. दरगाह पर हुए आत्मघाती हमले में 88 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 250 लोग घायल हो गए थे.

आतंकियों के खिलाफ मोर्चा
सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने लोगों को विश्वास दिलाया कि दुश्मनी के एजेंडा को सफल नहीं होने दिया जाएगा, चाहे इसके लिए कोई भी कीमत चुकानी पड़े. अधिकारियों ने बताया कि आगामी दिनों में कार्रवाई और तेज कर दी जाएगी क्योंकि सरकार ने आतंकवाद का सफाया करने का संकल्प लिया है.

पाकिस्तान में सप्ताहांत से हुए कम से कम आठ आतंकवादी हमलों के बाद संघीय एवं प्रांतीय सरकारों ने एक साथ कार्रवाई शुरू की है. प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अध्यक्षता वाली एक उच्च स्तरीय बैठक में इस सप्ताह इस बात पर सहमति जताई गई कि राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा करने वाले आतंकवादियों को ‘मिटा दिया’ जाना चाहिए.

धमाके के पीछे ISIS की साजिश
अधिकारियों ने बताया कि दरगाह में हुए विस्फोट में घायल हुए कई लोगों की हालत नाजुक है और उन्हें कराची के अस्पताल में ले जाया जाएगा. सेना ने कहा कि सशस्त्र बल सभी आवश्यक संसाधनों की मदद से बचाव एवं राहत कार्य कर रहे हैं. पाकिस्तानी सेना एवं रेंजर्स ने इसमें मदद की. सिंध में शिया दरगाह पर हुए हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली है. दरगाह को सील कर दिया गया है. पुलिस ने प्रारंभिक सबूत एकत्र कर लिए हैं और सीसीटीवी फुटेज हासिल कर ली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *