लालू के परिवार को कथित मिट्टी घोटाले में नीतीश सरकार ने दी क्लीन चिट

0

lalu-prasad-yadav-in-press-conference-650_650x400_41491740591पटना: पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान (चिड़ियाघर) में मिट्टी डालने (भरने) में कथित रूप से अनियमितता बरते जाने के मामले में घिरे राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के परिवार को शनिवार को राज्य सरकार ने क्लीन चिट दे दी. बिहार के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने कहा कि उद्यान में मिट्टी भराई के मामले में कहीं कोई घोटाला नहीं हुआ है. इधर, भाजपा ने इस जांच पर सवाल उठाया है. बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने उद्यान में बिना निविदा निकाले मिट्टी डालने और घोटाले को लेकर लालू परिवार पर आरोप लगाया था. इसके बाद बिहार के मुख्य सचिव ने इस मामले की सभी फाइल अपने पास मंगवाई थी.

इन कागजातों की जांच के बाद मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने शनिवार को संवाददाताओं से कहा कि मिट्टी घोटाला नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि फाइल में कहीं कुछ गड़बड़ी नहीं पाई गई है. उन्होंने कहा कि मात्र नौ लाख रुपये की मिट्टी डालने का काम हुआ है.

क्लीन चिट के बाद आरजेडी ने सुशील कुमार मोदी से मांग की कि उन्हें माफी मांगनी चाहिए. आरजेडी के नेता शक्ति सिंह ने कहा कि सुशील मोदी सिर्फ आरोप लगाकर लालू प्रसाद के परिवार को बदनाम कर रहे हैं.

भाजपा विधायक नितिन नवीन ने जांच पर ही सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि सरकार लालू प्रसाद के परिवार को बचा रही है. उन्होंने कहा कि अगर जांच हुई है, तो उसकी रिपोर्ट सार्वजनिक की जानी चाहिए. कैसी जांच हुई है, यह भी बताना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि सुशील मोदी ने लालू प्रसाद के परिवार के बन रहे एक मॉल की मिट्टी को पटना के चिड़ियाघर में भरने का आरोप लगाया था. इसमें उन्होंने 90 लाख रुपये के घोटाला का आरोप लगाया था. लालू के पुत्र तेजप्रताप यादव राज्य के वन एवं पर्यावरण विभाग के मंत्री हैं, जिसके अंतर्गत चिड़ियाघर आता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *