अरविंद केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से दो करोड़ ‘अवैध कैश’ लिया :- कपिल मिश्रा

0

kapil-mishra-media_650x400_51494139778नई दिल्ली: दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार से हटाए गए मंत्री कपिल मिश्रा ने आज पार्टी में जारी उहापोह के बीच राजघाट पर मीडिया से बात की. उन्होंने सीधे आम आदमी पार्टी के संजोयक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि जमीन सौदे को लेकर अरविंद केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपये नकद लिए हैं. कपिल मिश्र का दावा है कि यह लेन देन उनकी आंखों के सामने हुआ है और वह इस बारे में केजरीवाल से साफ बात कह चुके हैं.
मीडिया से बात करने के बाद कपिल मिश्र ने एक के बाद तीन ट्वीट किए. पहले ट्वीट में उन्होंने कहा कि परसों मैंने नकद लेन देन देखा और कल सुबह खुलकर आवाज उठाई. एक दिन का इंतजार भी असंभव था.

इसके बाद दूसरे ट्वीट में कपिल मिश्र ने कहा कि जिस दिन सत्येंद्र जैन जेल जाएंगे. उस दिन मेरी एक एक बात सच साबित हो जाएगी. चंद दिनों का इंतजार  सांच को आंच नहीं.

इसके अलावा तीसरे ट्वीट में कपिल मिश्र ने कहा कि कल तक अरविंद केजरीवाल दिल्ली में एमसीडी चुनाव में करारी हार के लिए ईवीएम को जिम्मेदार ठहरा रहे थे और अब अचानक पानी का मुद्दा बना दिया. आखिर क्यों अब मीडिया के सामने आने से बच रहे हैं अरविंद केजरीवाल.

इससे पहले मीडिया के सामने आकर पहली बार किसी ने सीधे अरविंद केजरीवाल के बारे में इतना  बड़ा खुलासा किया है या कहें कि अरविंद केजरीवाल पर इतने बड़े और गंभीर आरोप लगाए हैं.

मेरे सामने अरविंद केजरीवाल ने लिए दो करोड़ कैश
उन्होंने कहा कि सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल को दो करोड़ रुपये का अवैध रुपया दिया. उन्होंने कहा कि मेरे सामने यह सब हुआ. उन्होंने कहा कि उसके बाद भी उन्हें क्लीनचिट दी जा रही है. उन्होंने कहा कि सत्येंद्र जैन के भ्रष्टाचार को बचाने की क्या जरूरत है और आखिर खुद पैसे लेने की क्या जरूरत आ पड़ी थी.

सीबीआई के सामने भी बयान देने को तैयारी, एलजी के सामने दिया बयान
उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल की ईमानदारी के लिए लोग उनसे जुड़े. कपिल मिश्र ने कहा कि मैं अपने बयान पर कायम हूं और सीबीआई के सामने भी यह बयान देने को तैयार हूं. उन्होंने कहा कि मैं यह बयान एलजी के सामने भी देकर आया हूं.

पार्टी में भ्रष्टाचारियों को बचाने की आदत हो गई है
उन्होंने कहा कि मैं अपनी नौकरी छोड़कर आया था. चुनाव हारा फिर जीता. उन्होंने कहा कि कैबिनेट में रहते हुए ऑन रिकॉर्ड बयान देकर आया हूं. उन्होंने कहा कि केजरीवाल जी के घर में यह लेन देन हुआ, मैंने बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग भ्रष्टाचारियों को बचाने की आदत हो गई है. कुछ लोग गलत काम कर रहे हैं. पार्टी में किसी भ्रष्टाचारी को नहीं छोड़ेंगे. जेल भिजवा कर दम लेेंगे. या तो वह बताएं कि पैसा कहां से आया.

जमीन के लेनदेन को लेकर कैश लेन देन की बात सामने आई
मिश्रा ने कहा कि कानून को अपनी कार्रवाई करनी चाहिए. मैं दो साल का कैबिनेट साथी रहा हूं.  उन्होंने कहा कि परसों ही जमीन के सौदे का दो करोड़ कैश अरविंद केजरीवाल ने पैसे लिए. उन्होंने कहा कि केजरीवाल की जमीन का सौदा किया गया था. यह जमीन 50 करोड़ रुपये की थी. यह जमीन अरविंद केजरीवाल के रिश्तेदार की थी.

सत्येंद्र जैन ने दो करोड़ कैश दिए अरविंद केजरीवाल को
कपिल मिश्रा ने कहा कि यह बात उन्हें सत्येंद्र जैन ने भी बताई थी. जिसके बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल से भी इस मुद्दे पर बात की. उन्होंने यह भी कहा कि दो करोड़ के लेन देन की बात पर भी मैंने केजरीवाल से पूछा कि यह कैश क्यों लिया गया. मैं पूछा तो उनका कहना था कि राजनीति में बहुत कुछ होता है. इसका समय पर जवाब दिया जाता है. उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल से भी गलती हुई होगी. वे भी इंसान हैं. गलती उनसे भी हो सकती है. लोगों के सामने आकर उन्हें सफाई देनी चाहिए. इस पर केजरीवाल ने उनपर भरोसा रखने की बात कही थी.

अरविंद केजरीवाल की ईमानदारी पर सीधे उठे सवाल
बता दें कि यह पहली बार है कि अरविंद केजरीवाल की ईमानदारी पर यह सीधा सवाल उठे हैं. उनपर सीधा दो करोड़ रुपये के लेन देन के आरोप लगे हैं. इससे पहले दूसरे स्तर के नेताओं पर आरोप लगते रहे हैं. लेकिन पार्टी का चेहरा अरविंद केजरीवाल पर ही अब आरोप लग गए हैं.

कपिल ने एक बार फिर दोहराया कि आम आदमी पार्टी छोड़कर कहीं नहीं जाऊंगा. यह पार्टी मेरी है. इसी में रहकर लड़ाई लड़ूंगा. उन्होंने कहा कि पार्टी बिखर गई है. उन्होंने कहा कि मैंने मंत्री बनने के एक महीने के भीतर सीएम को चिट्ठी लिखी. मैंने 400 करोड़ रुपये के घोटाले की बात कही. कल ही मैंने एंटी करप्शन ब्यूरो के प्रमुख से मिलने का वक्त मांगा जिसके बाद मुझे मंत्री पद से हटा दिया गया.

कपिल ने एलजी अनिल बैजल से रविवार की सुबह मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने कहा कि उन्होंने टैंकर घोटाले से जुड़ी जानकारी उन्हें दी है.

सुबह मिश्र ने ट्वीट कर ये कहा था
इसके साथ ही मिश्रा ने एक ट्वीट कर कहा है कि मैंने उन्हें गलत पैसा लेते देखा. चुप रहना असंभव था. बता दें कि मिश्र ने अभी यह साफ नहीं किया है कि उन्होंने किसे गलत तरीके से कैश लेते देखा. उन्होंने इसके साथ ही यह भी लिखा कि अब प्राण भी जाए तो जाए.

आज सुबह उन्होंने एलजी से मिलने का समय मांगा था और सुबह 10:30 बजे वे एलजी से मिले. एलजी से मिलकर दिल्ली के पूर्व जल मंत्री ने टैंकर घोटाले में आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है.

कांग्रेस पर लगाए करप्शन के आरोप
कपिल मिश्रा ने कहा कि “जब हम कांग्रेस के करप्शन पर चुप नहीं बैठे, बीजेपी के करप्शन पर चुप नहीं बैठे तो फिर हमारे यहां अगर 2-4 लोग हैं तो उनपर चुप कैसे बैठेंगे?” क्या वो बीजेपी में शामिल होंगे? इस सवाल के जवाब में वो बोले “ये मेरी पार्टी है मैं आजीवन यहीं रहूंगा.”

आरोपों पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का जवाब
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बाहर आकर मीडिया को संबोधित किया. उन्होंने कपिल मिश्रा के आरोपों को खारिज कर दिया और कहा कि इन आरोपों को कोई स्वीकार नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि मिश्रा के आरोप उलजलूल हैं. उस पर कुछ नहीं कहा जा सकता.

पार्टी विधायक कर्नल सहरावत ने कहा कि केजरीवाल ईमानदारी साबित करें
पार्टी के विधायक कर्नल देवेंद्र सहरावत ने कहा कि मंत्रिमंडल के एक पूर्व सहयोगी जो आरोप लगाए हैं वह गंभीर हैं. सत्येंद्र जैन पर जो सीबीआई की चार्जशीट दायर हुई है यह आरोप उनसे मेल खाते हैं. उन्होंने कहा कि केजरीवाल को इस बारे में अपना बयान देना चाहिए और एक बार फिर ईमानदारी को साबित करें कि यह गलत आरोप है. उन्होंने कहा कि शुंगलू समिति की रिपोर्ट ने भी कई सवाल उठाए हैं. केवल आरोप नकार देने से काम नहीं चलता है.

उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद सभी विधायकों को सवा लाख पार्टी में जमा कराने के लिए कहा गया था. कई जगह पार्टी पर गंभीर आरोप लगे. शराबबंदी से लेकर ट्रांसपोर्ट तक के मुद्दे जनता के सामने आए. उन्होंने कहा कि अमानतुल्ला खान जैसे लोगों को पीएसी सदस्य बनाया गया था. इससे साफ हो गया था कि पार्टी दूसरी बार सत्ता में आने के बाद कितना बदल गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *